पारिवारिक कलह से परेशान किशोर ने इच्छामृत्यु मांगी, प्रधानमंत्री कार्यालय ने जांच करने को कहा

भागलपुर (बिहार).भागलपुर जिले के कहलगांव के रहने वाले एक किशोर ने पारिवारिक कलह की वजह से इच्छामृत्यु की मांग की है। उसने करीब दो महीने पहले राष्ट्रपति को पत्र भेजकर इच्छा मृत्यु का अनुरोध किया था। राष्ट्रपति के अलावा उसने बिहार के मुख्यमंत्री समेत आला अधिकारियों को लेटर भेजा था। एक अफसर ने मंगलवार को बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय के आदेशपर जिला प्रशासन मामले की जांच कर रहा है। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने भी जिला प्रशासन से 7दिनों के अंदर रिपोर्ट देने को कहा है।15 साल के कृष ने बताया, "मुझेमां सुजाता कुमारी और उनकेरिश्तेदार प्रताड़ित करते हैं। 8 मई 2017 को मां और मामा ने पिता और मेरे साथ मारपीट की थी। चाकू से पिता मनोज कुमार मित्रा के हाथ और छाती पर वार किए थे।मेरी मां अक्सर स्कूल में आकर मेरे खिलाफगलत बातें कहती है, जिससे मेरे दोस्त मेरा मजाक उठाते है। इससे मेरी पढ़ाई पर गलत प्रभाव पड़ रहा है। कृष के पिता कैंसर से पीड़ित हैं कृष के पिता मनोजकैंसर से पीड़ित हैं। वे फिलहालग्रामीण विकास विभाग, देवघर (झारखंड) में जिला प्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं। मां सुजाता इंडियन ओवरसीज बैंक पटना में सहायक प्रबंधक के पद परहैं। कृष अपने पिता के साथ रहता है और 9वीं कक्षा का छात्र है। कृष के दादा और उसके रिश्तेदार मनोज के साथ खराब रिश्ते के लिए मां को दोषी मानते हैं। दोनों ने एक-दूसरे पर केस किए हैं। दोनों एक दूसरे पर विवाहेत्तर संबंध के आरोप लगाते रहे हैं।कृष ने कहा- मां प्रॉपर्टी के लिए जान से मरवा सकती हैकृष का कहना है कि पारिवारिक कलह से उसकी जिदंगी खराब हो गई है। पिता की संपत्ति के लिए उसकी मां और उसके घरवालों को जान से मरवा सकती है। उसनेराष्ट्रपति को भेजे पत्र में कहा है कि मैं इसजिंदगी से तंग आ गया हूं। कैंसर से पीड़ित पिता को मरते नहीं देख सकता हूं। इससे पहले मैं मरना चाहता हूं।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें




minor boy demanded euthanasia victim of harassment district administration inactive for 2 months

Read more: https://www.bhaskar.com/national/new...

Actual news in your location