#Did you know: प्रेग्नेंसी के 20वें हफ्ते में ही बच्चे को मिल जाते हैं ये Rights

18 साल से कम उम्र के ह्युमन बीइंग को भारत में चाइल्ड माना गया है। गवर्नमेंट के साथ ही हर पैरेंट्स की यह जिम्मेदारी है कि वे बच्चे को डेवलप करें। बच्चों को कुछ अधिकार दिए गए हैं। जैसे, प्रेग्नेंसी के 20वें हफ्ते से ही बच्चे को सर्वाइवल का अधिकार मिल जाता है। आज हम बच्चों को मिले ऐसे अधिकारों की जानकारी दे रहे हैं, जो सभी को मालूम होना चाहिए। यूनाइटेड नेशन ने चाइल्ड राइट्स कंवेनशन जारी किया है। इस पर सभी देशों ने हस्ताक्षर किए हैं। भारत भी उनमें से एक है। इसके अलावा भारतीय संविधान ने भी बच्चों की हिफाजत के लिए कई डायरेक्शंस दिए हैं। यदि इन्हें फॉलो नहीं किया गया तो संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कानूनी के मुताबिक कार्रवाई हो सकती है।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Read more: https://www.bhaskar.com/indian-national-...

Actual news in your location


Similar news

<i>Dastaney-e-Delhi football: Captain Modi, yeh AAP ne kaun sa game khela hain?</i> 0 0 0
60 दिन में घरेलू हिंसा के मामले को निपटाना जरूरी, कोई भी महिला इस कानून के तहत पा सकती है न्याय 1 1 666
महाराष्ट्र में निर्वस्त्र कर पीटे गए नाबालिगों की पहचान जाहिर करने पर राहुल को नोटिस, ट्विटर पर पोस्ट किया था वीडियो 8 8 666
Fundamental rights under threat in J&K, withdrew support in nation's interest: Ram Madhav 0 0 666
<i>Dastaney-e-Delhi football: Captain Modi, yeh AAP ne kaun sa game khela hain?</i> 0 0 666
Fundamental rights under threat in J&K, withdrew support in nation's interest: Ram Madhav 0 0 666
Even with Rs 120.71 crore collection, Salman Khan's Race 3 struggles to compete with Nirahua's Border in UP-Bihar 79 79 666
Fundamental rights under threat in J&K, withdrew support in nation's interest: Ram Madhav 0 0 666
<i>Dastaney-e-Delhi football: Captain Modi, yeh AAP ne kaun sa game khela hain?</i> 0 0 666
Xiaomi Redmi Y2 on sale today; all you need to know before purchasing it 2 2 666