रिपोर्ट: मोदी सरकार में घटे रोजगार, इस साल और बढ़ेगी बेरोजगारी

इन दिनों देश में 'पकौड़ा पॉलिटिक्स' चल रही है। पकौड़े को बेचना रोजगार माना जाए या न नहीं, इसपर विवाद छिड़ा है। जिसकी शुरुआत मोदी के उस बयान से हुई जिसमें उन्होंने कहा कि अगर कोई किसी दफ्तर के नीचे पकौड़े बेचता है तो क्या उसे रोजगार नहीं माना जाए। इस बयान के बाद रोजगार को लेकर बहस शुरू हो गई है। ऐसे में आकड़ों को खंगालने पर पता चलता है कि जब से मोदी पीएम बने हैं तब से बेरोजगारी बढ़ी है। जबकि लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान मोदी ने आगरा में कहा था कि वो हर साल एक करोड़ रोजगार देंगे।
आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Read more: https://www.bhaskar.com/indian-national-...

Actual news in your location