GST के नाम पर कारोबारी ज्यादा पैसे न लें, इसलिए लोगों को अवेयर करेगी सरकार

नई दिल्ली.  जीएसटी लागू होने के बाद कारोबारी कस्टमर्स से नए टैक्स के नाम पर ज्यादा पैसे ले सकते हैं। इस आशंका को देखते हुए सरकार कंज्यूमर्स को जीएसटी की जानकारी देने के लिए कैम्पेन चलाएगी। रेवेन्यू सेक्रेटरी हसमुख अढिया ने यह जानकारी दी। बता दें कि जीएसटी काउंसिल ने 18-19 मई को श्रीनगर की मीटिंग में 1,205 गुड्स और 500 से ज्यादा सर्विसेस पर टैक्स रेट तय किए। लोगों को जीएसटी के तौर-तरीके समझाने हैं... 
 
 
- हसमुख अढिया ने कहा-  "रेट इस तरह तय किए गए हैं कि ज्यादातर गुड्स पर टैक्स अभी की तुलना में या तो घटेंगे या बराबर रहेंगे। देखा जाए तो इससे सरकार को रेवेन्यू का नुकसान होगा, लेकिन इसकी भरपाई बेहतर कंप्लायंस से होगी। जो लोग टैक्स के दायरे में होने के बावजूद अभी टैक्स नहीं दे रहे, वे अब पकड़ में आएंगे। 
- "जीएसटी की तैयारी में अब कुछ बाकी नहीं है। लेकिन सरकार को ट्रेड और इंडस्ट्री तक पहुंचना है, जीएसटी के तौर-तरीके समझाने हैं। सबसे जरूरी कंज्यूमर को बताना है। कुछ ट्रेडर जीएसटी में टैक्स रेट बढ़ने की बात कह कर ग्राहकों से ज्यादा पैसे वसूल सकते हैं। इसे...

Read more: http://www.bhaskar.com/news/NAT-NAN-hasm...

Actual news in your location